Top Newsदिल्लीराज्यराष्ट्रीय न्यूज

34 दिनों में 1 करोड़ लोगों को लगी वैक्सीन, अमेरिका के बाद भारत में सबसे तेज टीकाकरण

सबसे तेज टीका लगाने के मामले में भारत दुनियाभर में अमेरिका के बाद दूसरा देश है।

भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान जारी है। सबसे तेज टीका लगाने के मामले में भारत दुनियाभर में अमेरिका के बाद दूसरा देश है। भारत में एक करोड़ से अधिक लोगों को वैक्सीन लग चुकी है और सबसे खास बात यह है कि भारत ने यह आंकड़ा महज 34 दिनों में पार किया है। शुक्रवार तक देश में एक करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है और पूरी दुनिया में ऐसा करने वाला भारत दूसरा देश है। इससे पहले अमेरिका 31 दिनों में एक करोड़ लोगों को टीका लगा चुका है। भारत ने ये आंकड़ा 34 दिनों में पूरा किया है।

भारत ने 16 जनवरी को कोरोना से लड़ने के लिए लोगों को टीका लगाना शुरू कर दिया था और कुछ हफ्तों के लिए सबसे तेज गति से खुराक का प्रबंध भी किया था। लेकिन कुछ लोगों में संकोच होने और  कुछ तकनीकी खराबी के कारण गति धीमी पड़ गई और अमेरिका आगे निकल गया।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, “भारत ने अपने स्वास्थ्य कर्मचारियों और फ्रंटलाइन श्रमिकों को कोविड -19 वैक्सीन की 1 करोड़ से अधिक खुराक दी है। यह 34 दिनों में किया गया है, पूरी दुनिया में ऐसा करने वाला भारत दूसरा देश है।

सरकार के अनंतिम आंकड़ों के अनुसार, शुक्रवार शाम तक 1.04 करोड़ लोगों को टीका लगाया गया। लेकिन सभी स्वास्थ्य कर्मियों ने साइन अप नहीं किया है, सरकार ने उन्हें नए सिरे से अपील करने के लिए कहा है, एक दिन पहले विंडो बंद करने का मतलब है। “दोनों टीके सुरक्षित और प्रतिरक्षात्मक हैं।

डॉ हर्षवर्धन ने कहा, “पूरे देश में टीकाकरण के बाद कोई भी गंभीर घटना नहीं देखी गई है, टीकाकरण से किसी की मौत नहीं हुई है। मै सभी हेल्थ प्रोफेशनल्स से अनुरोध करूंगा कि वो टीका लगवाएं।”

बारह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने को-विन ऐप पर रजिस्टर्ड सभी स्वास्थ्य कर्मियों का 75% से अधिक लोगों का टीकाकरण किया है। सूची में टॉप पर 84.7% के साथ बिहार है, इसके बाद 82.9% के साथ त्रिपुरा और 81.8% के साथ ओडिशा है। राष्ट्रीय राजधानी, हालांकि, 50% से कम वैक्सीन कवरेज वाले सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सूची में है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button