Top Newsबिहारराष्ट्रीय न्यूज

10 गुना ज्यादा दाम मिलने से खुश हुए किसान, कहा- ‘नए कृषि कानून के फायदे सभी को बताऊंगा’

बिहार के समस्तीपुर के एक किसान ने वाजिब कीमत नहीं मिलने पर खेत में तैयार गोभी की अपनी फसल को ट्रैक्टर चलाकर जमींदोज कर दिया था। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की पहल के बाद किसान को फसल के 10 गुना दाम मिल गए हैं। इससे खुश किसान ने कहा है कि कृषि कानूनों के फायदे के बारे में सबको बताऊंगा।

पटना। देश में जारी किसान आंदोलन के बीच एक चौंकाने वाली अच्छी खबर सामने आई है। बिहार के समस्तीपुर से आई तस्वीर ने सभी को चौंका दिया। दरअसल, यहां एक किसान ने अपनी गोभी की फसल पर ट्रैक्टर चलाकर जमींदोज सिर्फ इसलिए कर दिया, क्योंकि उसने फसल की वाजिब कीमत नहीं मिल रही थी।

खबर के बारे में जानकारी मिलते ही केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की पहले के बाद किसान को फसल का 10 गुना दाम मिला। जिसके बाद खुश किसान ने कहा कि वह सभी को कृषि के नए कानूनों के बारे में बतायेगा और सभी को इसके होने वाले फायदे से अवगत करवायेगा।

दरअसल, गोभी की फसल पर ट्रैक्टर चलाने वाले किसान ओम प्रकाश यादव ने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद से बात करते हुए कहा, ‘CSC के जरिए मेरी फसल ठीक दाम पर बिक गई। हालांकि अभी पूरी फसल नहीं बिकी है, सिर्फ 4 टन माल बिका है।’ इस पर रविशंकर प्रसाद ने किसान से कहा- ‘अभी तो यह शुरुआत है। आगे भी आपकी फसल बिकेगी।’

गोभी की फसल पर चलाना पड़ा ट्रैक्टर (फोटो-आजतक)

समस्तीपुर के मक्तापुर गांव के किसानों से आग्रह करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आप अपने अनुभवों को बाकी किसानों के साथ जरुर शेयर करें। उनको बताएं कि नए कानून की वजह से समस्तीपुर की गोभी अच्छे दाम पर दिल्ली में बिक गई है। वहीं आग्रह को देखते हुए किसानों ने भी अपनी सहमति जताते हुए कहा- ‘ठीक है मैं बाकी लोगों को भी इस बारे में बताऊंगा।’

Delhi: The cost of cabbage crop is not coming out, farmers are being forced to run tractors on the crop ANN

इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘किसान आंदोलन को लेकर राजनीति हो रही है। सरकार किसानों से बातचीत के लिए तैयार है। मंडी से बाहर आकर किसानों को फायदा होगा। हमें तकनीक से भी किसानों को लाभ पहुंचाने के बारे में सोचना चाहिए।’ किसान की कहानी सोशल मीडिया चर्चा का विषय बनी हुई थी। किसान ने गोभी की फसल पर ट्रैक्टर चलवा दिया था।

union minister and agriculture company came forward to help of farmer who runs tractor on his cabbag

रविशंकर प्रसाद ने खबर के संज्ञान में आने के बाद अपने विभाग के कॉमन सर्विस सेंटर को निर्देश दिया कि वे किसान से संपर्क करें और उनकी फसल को देश के दूसरे राज्य में सही दाम पर बेचने का बंदोबस्त करें। सरकार ने कृषि उत्पादों की बिक्री के लिए डिजिटिल प्लेटफार्म बना रखा है। इसी प्लेटफार्म पर दिल्ली के एक खरीददार ने किसान की गोभी 10 रुपये प्रति किलो खरीदने का प्रस्तान दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button