Top Newsअंतर्राष्ट्रीयदिल्लीराज्य

26 January Violence : दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के हाथ लगी बड़ी कामयाबी

दीप सिद्धू की गर्लफ्रेंड कनाडा से चला रही है फेसबुक अकाउंट ?.....

नई दिल्ली : देश की राजधानी दिल्ली में किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान उपद्रवियों के साथ शामिल पंजाबी अभिनेता दीप सिद्धू गिरफ्तारी के बाद ही हिंसा से जुड़े राज सामने आ सकेंगे। वहीं, दीप सिद्धू को गिरफ्तार करने के लिए दिल्ली पुलिस की कई टीमें बीते 10 दिनों से पंजाब समेत कई राज्यों में तलाश कर रही हैं, लेकिन वह पुलिस के हाथ नहीं आ रहा है। वहीं, क्राइम ब्रांच ने 50 हजार इनामी सुखदेव को चंडीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, दीप सिद्धू समेत कई अन्य आरोपियों पर दिल्ली पुलिस ने 1 लाख रुपये का इनाम घोषित किया है। इनमें से एक जुगराज सिंह भी है, जिसने 26 जनवरी को किसान ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले की प्राचीर पर तिरंगे के साथ दूसरा झंडा लगाया।

दीप सिद्धू की गर्लफ्रेंड की हुई पहचान

दीप के मामले में पुलिस को पता चला है कि उसकी कनाडा में रहने वाली महिला मित्र उसका फेसबुक अकाउंट चला रही है और अब उस महिला की भी पहचान कर ली गई है। पिछले दिनों दिल्ली पुलिस को जानकारी मिली थी कि दीप सिद्धू की महिला दोस्त दीप के वीडियो को फेसबुक पर अपलोड करती है।

26 january violence
26 january violence

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने 3 फरवरी को दीप सिद्धू समेत लाल किला पर केसरिया झंडा फहराने वाले आठ उपद्रवियों की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित किया था। पंजाब के गैंगस्टर लक्खा सिधाना ने सिंघु बार्डर से शनिवार रात को फेसबुक लाइव किया था। इससे माना जा रहा है वह सिंघु बार्डर पर किसानों के बीच ही छिपा हुआ है। तीन फरवरी को दिल्ली पुलिस ने दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह व गुरजंत सिंह पर एक-एक लाख रुपये इनाम की घोषणा की थी। गुरजोत व गुरजंत, दीप सिद्धू के साथी हैं। दोनों 26 जनवरी को उसके साथ थे। इनके अलावा जगबीर सिंह, बूटा सिंह व इकबाल सिंह की गिरफ्तारी पर पुलिस ने 50-50 हजार रुपये का इनाम रखा था।

उपद्रवियों को नोटिस देने पंहुची क्राइम ब्रांच की टीम

लाल किले में उपद्रव में शामिल चार ट्रैक्टरों के मालिकों को नोटिस देने शनिवार को क्राइम ब्रांच की टीम पीलीभीत व शाहजहांपुर गई। पुलिस के मुताबिक एक ट्रैक्टर पीलीभीत के पूरनपुर घुंघचाई क्षेत्र में रहने वाले ग्रंथी के नाम पर पंजीकृत पाया गया। ट्रैक्टर मालिक शहबाजपुर गुरुद्वारे में ग्रंथी हैं। उनकी गैरमौजूदगी में वहां के एक सेवादार को पुलिस ने ग्रंथी के नाम का नोटिस सौंप दिया। उधर, शाहजहांपुर में भी तीन ट्रैक्टर मालिकों के घरों पर क्राइम ब्रांच ने नोटिस चस्पा दिए। पुलिस ने चमराबोझी गांव में अरशप्रीत सिंह, लक्ष्मीपुर में परमजीत सिंह, रामपुरकलां में जद¨वदर सिंह के घरों पर नोटिस चस्पा दिए। सभी को दस फरवरी तक जांच में शामिल होना है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button