राष्ट्रीय न्यूज

केंद्रीय कैबिनेट का ऐलान, एक मार्च से 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को लगेगा Corona का टीका

45 साल से ज्यादा उम्र के लोग जो गंभीर रूप से बीमार हैं, उनको भी लगाया जाएगा कोरोना का टीका

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के एक बार फिर से बढ़ते खतरे को देखते हुए केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को एक अहम फैसला लिया। फैसले के मुताबिक देश में 1 मार्च से 60 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीका लगाया जाएगा। वहीं 45 साल से ज्यादा उम्र के लोग जो गंभीर रूप से बीमार हैं, उनका भी टीकाकरण शुरू किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि 1 मार्च से शुरू हो रहे टीकाकरण में 10,000 सरकारी टीकाकरण केंद्रों में और 20 हजार निजी अस्पतालों में टीकाकरण किया जाएगा। सरकारी केंद्रों में लगने वाले टीके मुफ्त में लगाए जाएंगे। वहीं जो लोग प्राइवेट अस्पताल में कोरोना का वैक्सीन लेना चाहते हैं उन्हें पैसे चुकाने होंगे।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने ये भी कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय अगले 2-3 दिन में कोरोना वैक्सीन की कीमत तय कर देगा। मंत्रालय इस वक्त कोरोना वैक्सीन निर्माताओं और अस्पतालों से चर्चा कर रहा है। इस बीच देश में टीकाकरण कार्यक्रम के तहत करीब 1 करोड़ 20 लाख लोगों का टीकाकरण हो चुका है।

इस बीच महाराष्ट्र केरल और पंजाब समेत कुछ राज्यों में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण के नये मामलों में तेजी आई है। इन दोनों राज्यों में हर रोज हजारों कोरोना संक्रमण के नये मामले सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र की बात करें तो यहां पिछले 24 घंटों में 6 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले सामने आए हैं जबकि संक्रमण के चलते 50 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए यहां कई जिलों में स्थानीय स्तर पर प्रतिबंध लगाए गए हैं। पुणे में कोरोना से बचने के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए एक मार्च भी निकाला गया।

इस बीच केंद्र ने उन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में उच्च-स्तरीय टीमों की नियुक्ति की है जहां पर कोविड -19 मामलों में वृद्धि देखी जा रही है। टीमों को महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, एमपी, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और जम्मू और कश्मीर में भेजा गया है। ये टीमें राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों  में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के कारणों का पता लगाने के साथ ही वहां के प्रशासन के साथ काम करेंगी। वहीं भारत में कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में जो सफलता मिल रही है उसके बाद ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में रिकवरी रेट बढ़कर 97.25 प्रतिशत हो गया है जबकि मृत्यु दर घटकर 1.42 फीसद रह गई है। स्वस्थ हो चुके मरीजों की बात करें तो संक्रमित लोगों में से अब तक 1 करोड़ 7 लाख 26 हज़ार 702 मरीज़ ठीक हो चुके हैं। इस बीच, भारत लगातार वैक्सीनेशन के क्षेत्र में नए नए मुकाम हासिल कर रहा है। अभी तक 1 करोड़ 21 लाख 65 हजार 598 लोगों को कोविड का टीका लग चुका है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button