Top Newsअंतर्राष्ट्रीयदिल्लीराज्यराष्ट्रीय न्यूज

किसान आंदोलन पहुंचा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर,विदेशी हस्तक्षेप को लेकर सोनाक्षी सिन्हा ने तोड़ी चुप्पी

रिहाना नें किसान आंदोलन से जुड़ा आर्टिकल शेयर कर लिखा की हम इस के बारे में बात क्यू नहीं कर रहे है ? जिसके बाद सोशल मीड़िया पर मानों युद्ध शुरु हो गया हो।

जहां एक तरफ केंद्र सरकार के कृषी कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन लगातार दिल्ली की सीमाओं पर जारी हैं। वहीं दूसरी तरफ सोशल मीड़िया पर किसानों के प्रदर्शन को लेकर घमासान युद्ध भी जारी है। कोई किसानों के हित में बात कर रहा है तो कोई विरोध में, मानों किसान आंदोलन केवल किसानों कि जंग नहीं अब पूरे देश की जंग बन गई हो।

rihana] के लिए इमेज नतीजे

अब आंदोलन के सिलसिले में भारतीय व विदेशी अभिनेता भी मैदान में उतर आए है। बता दें हाल ही में विदेशी पोप स्टार रिहाना ने ट्वीटर पर एक पेस्ट किया जिसमें रिहाना नें किसान आंदोलन से जुड़ा आर्टिकल शेयर कर लिखा की हम इस के बारे में बात क्यू नहीं कर रहे है ? जिसके बाद सोशल मीड़िया पर मानों युद्ध शुरु हो गया हो। कुछ लोग रिहाना का समर्थन कर रहे है, तो कुछ लोग तलवारे ले कर रिहाना के पिछे पड़ गए।

इसी सिलसिले में रिहाना के बाद कुछ और विदेशी हस्तियों ने आंदोलन के बारे में सोशल मीड़िया पर पोस्ट किए। इसी बिच सोनाक्षी सिन्हा ने भी विदेशी हस्तियों के ट्वीट पर चुप्पी तोड़ते हुए इंस्टाग्राम स्टोरी के जरिए कहा कि आपको यह याद रखना चाहिए की यह कोई एलियंस नहीं है बल्कि हमारी तरह ही इंसान है, जो दुसरे इंसानों के लिए आवाज उठा रहे है।

इतना ही नहीं सोनाक्षी सिन्हा ने आगे कहा कि इससे पहले आप आज रात रिहाना और ग्रेटा या अन्य विदेशीयों के भारत के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने के बारे में सुनें, आपको यह बात जान लेने की जरूरत है। जाहिर है वे हमारे तीन कृषि कानूनों और हमारे कृषि क्षेत्र की बारीकियों को नहीं जानते हैं।

लेकिनं, चिंता सिर्फ इसी बात की नहीं है। आवाज उठाई गई है मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर, फ्री इंटरनेट को दबाने को लेकर, अभिव्यक्ति की आजादी को लेकर, सरकार के प्रोपेगैंडा, हेट स्पीच और सत्ता के दुरुपयोग को लेकर है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button