Top Newsउत्तर प्रदेशबिहारराज्यराष्ट्रीय न्यूज

बिहार के पहले मुस्लिम जिन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए दिया 51000 का अंशदान, देश में नई मिसाल की कायम

भगवान राम भारतीय सभ्यता संस्कृति के प्रतीक हैं उनके आदर्शों पर ही देश प्रगति के पथ पर अग्रसर हो सकता है

राम जन्मभूमि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण कार्य 5 अगस्त के बाद से शुरु होने जा रहा है। जिसके मद्देनजर देशभर से श्रद्धालु निर्माण के लिए दान कर रहे है। इसी बीच बिहार से राम भक्त गुरु डॉक्टर एम रहमान का कहना है की भगवान राम भारतीय सभ्यता संस्कृति के प्रतीक हैं उनके आदर्शों पर ही देश प्रगति के पथ पर अग्रसर हो सकता है।

बता दे हाल ही में राम मंदिर के निर्माण के लिए गुरु डॉक्टर एम रहमान ने ₹51000 का अंशदान दिया है। ऐसा करने वाले पहले मुस्लिम डॉक्टर एम रहमान ने देश में नई मिसाल कायम कर दी। अदम्य अदिति गुरुकुल के संस्थापक गुरु डॉक्टर एम रहमान ने अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण में सहयोग हेतु 51 हजार का चेक उपेंद्र जी (प्रांत समरस्ता प्रमुख – विश्व हिंदू परिषद) , मनीष कुमार विद्यार्थी ( राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ), गौरभ अग्रवाल व कामेश्वर चौपाल जी को सौंपा।

वहीं इस मौके पर अदम्या अदिति गुरुकुल के निदेशक मुन्नाजी और शिक्षक शशि सिंह मौजूद रहे।इस अवसर पर राम मंदिर निर्माण समिति के सदस्य कामेश्वर चौपाल ने कहा कि गुरु रहमान जैसे लोग ही सच्चे भारतीय है, जो बच्चों को भारतीय सभ्यता संस्कृति की शिक्षा तो देते हैं, और साथ ही भाईचारा प्रेम और सामाजिक सद्भाव का भी संदेश देते हैं।

आगे उन्होने कहा की बच्चों को वेद पुराण के साथ आधुनिक शिक्षा पद्धति के तहत शिक्षा प्रदान कराते हैं, भारतीय वांग्मय में भगवान राम आदर्श पुरुष है उनका जीवन चरित्र प्रत्येक मानव के लिए अनुकरणीय है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button