Top Newsपश्चिम बंगालराष्ट्रीय न्यूज

बंगाल में भाजपा की परिवर्तन यात्रा को नड्डा ने दिखाई हरी झंडी, बोले-ममता दीदी ने मां-माटी-मानुष की कद्र नहीं की

नड्डा ने कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को याद किया तो ममता दीदी परेशान हो गईं। मैं यह पूछता हूं कि इतने दिनों तक दीदी ने नेताजी को क्यों नहीं याद किया। 

बंगाल में ममता सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश भाजपा इकाई ने परिवर्तन यात्रा शुरू की है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने नदिया जिले के नवद्वीप से शनिवार शाम परिवर्तन यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस मौके पर लोगों का महाहुजूम उमड़ा पड़ा था। परिवर्तन यात्रा को हरी झंडी दिखाने से पहले नड्डा ने यहां एक रैली को भी संबोधित किया।

इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बंगाल की जनता ने परिवर्तन तय कर लिया है। 2021 में विधानसभा चुनाव के बाद बंगाल से तृणमूल कांग्रेस का जाना और भाजपा का आना तय है।

नड्डा ने कहा कि ममता दीदी ने परिवर्तन का नारा और मां, माटी, मानुष की शपथ ले 10 साल पहले सत्ता में आई थी। लेकिन, पिछले 10 साल में मां को लूट लिया, माटी का अनादर किया गया और मानुष की रक्षा नहीं की गई।

नड्डा ने कहा कि बंगाल में मां, माटी व मानुष की जगह टोलाबाजी, तुष्टीकरण और तानाशाही ने लिया है।  इसलिए भाजपा ने तय किया है कि परिवर्तन यात्रा के माध्यम से बंगाल की जनता को जगाएंगे, उनको तृणमूल सरकार के कारनामे बताएंगे। उन्होंने साथ ही कहा कि मुझे तो लगता है कि अब बंगाल की जनता जाग चुकी है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पीएम मोदी के नेतृत्व में बंगाल में भी परिवर्तन का समय आ गया है। यहां भी सुशासन आएगा। ममता सरकार ने यहां भ्रष्टाचार को संस्थागत बना दिया है। प्रशासन का राजनीतिकरण कर दिया गया है पुलिस का इस्तेमाल क्रिमिनल एक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है। इन सब पर रोक लगाई जाएगी।

नड्डा ने कहा कि बंगाल की संस्कृति को ममता बनर्जी नहीं संभाल सकती। इसकी रक्षा सिर्फ भाजपा के कार्यकर्ता करेंगे। ममता जिस तरह मेरे नाम के आगे विशेषण लगाती हैं, वो बताता है कि आपने बंगाल की संस्कृति का निरादर किया है। नड्डा ने कहा कि महिला मुख्यमंत्री होने के बावजूद पूरे देश में महिलाओं पर सबसे ज्यादा अत्याचार बंगाल में होता है। दुष्कर्म और घरेलू हिंसा की सबसे ज्यादा वारदातें यहां होती हैं। यहां की मुख्यमंत्री एक महिला हैं, फिर भी अगर यहां महिलाओं की इज्जत ना हो तो राज्य को परिवर्तन की जरूरत है।

नड्डा ने आगे कहा कि ममता सरकार विकास की राह में रोड़ा है। इसके जाने से बंगाल का विकास होगा। ममता राज में जब मेरे ऊपर हमला हो सकता है तो आम आदमी की क्या हालत होगी, इसे बखूबी समझा जा सकता है।

नड्डा ने आगे कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को याद किया तो ममता दीदी परेशान हो गईं। मैं यह पूछता हूं कि इतने दिनों तक दीदी ने नेताजी को क्यों नहीं याद किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button