Breaking NewsTop Newsउत्तर प्रदेश

यूपी : समीक्षा बैठक में उर्जा मंत्री ने अधिकारियों को सुनाई खरी-खरी, कहा- उपभोक्ता सेवा में लापरवाही बर्दाश्त नहीं

"लखनऊ सहित मध्यांचल के सभी जिले ट्रिपिंग फ्री हों"

लखनऊ। गोखले मार्ग स्थित मध्यांचल मुख्यालय में बृहस्पतिवार को अभियंताओं के साथ समीक्षा बैठक में प्रदेश के उर्जा मंत्री ने कहा कि उपभोक्ता सेवा में लापरवाही पर अब एमडी की जवाबदेही तय होगी।
इसके अलावा ऊर्जा मंत्री मंत्री पं. श्रीकांत शर्मा ने मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अंतर्गत आने वाले सभी उन्नीस जिलों लखनऊ, सीतापुर, हरदोई, रायबरेली, उन्नाव, लखीमपुर, अयोध्या, सुल्तानपुर, अम्बेडकरनगर, बाराबंकी, अमेठी, गोंडा, बलरामपुर, बहराइच, श्रावस्ती, बरेली, शाहजहांपुर, पीलीभीत, बदायूं में गर्मियों के समय में ट्रिपिंग फ्री बनाया जाए। साथ ही उन्होंने किसानों को समय से ट्यूबवेल कनेक्शन देने की कार्रवाई और उपभोक्ता को सही समय उपभोक्ताओं को बिल देने के निर्देश दिए। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक व निदेशक फील्ड में निकलें, उपकेंद्रों की मॉनिटरिंग के लिए जाएं। सभी नोडल अधिकारी अपने अधीन उपकेंद्रों का भौतिक निरीक्षण जरूर कर लें। उपकेंद्रों पर उपभोक्ता शिकायतों का समय से निराकरण हो, इसमें कहीं कोई कोताही बर्दाश्त नहीं होगी।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि एमडी यह सुनिश्चित करें कि लखनऊ सहित मध्यांचल के सभी जनपद ट्रिपिंग फ्री हों। वहीं लाइन लॉस फीसद के कम होने के साथ ही बिजली चौबीस घंटे सातों दिन मिले। गर्मियों में आने वाली समस्याएं फरवरी 2021 तक पूरी कर ली जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि सरकार उपभोक्ता देवो भवः की नीति पर काम कर रही है।   उपभोक्ता की समस्या सरकार की समस्या है और उपभोक्ता की संतुष्टि ही सरकार की संतुष्टि है। गलत बिलिंग को लेकर आ रही शिकायतों पर मंत्री ने नाराजगी भी जताई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button