Breaking Newsराष्ट्रीय न्यूज

मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में बोले पीएम मोदी, केंद्र सरकार उठाएगी फ्रंटलाइन वर्कर्स की वैक्सीन का खर्च

भारत में 16 जनवरी से शुरू होगा दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण

 

नई दिल्ली। 16 जनवरी से देशभर में टीकाकरण अभियान शुरू होगा, जिसके लिए तैयारियां ज़ोरों पर हैं। तमाम प्रशासनिक तैयारियों के साथ-साथ कोविन ऐप के प्रयोग को लेकर भी व्यवस्थाएं पुख्ता की जा रही है। जिसके मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की।

बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में 16 जनवरी से कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू होगा। भारत में जिन दो वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी  दी गई है वो दुनिया के मुकाबले सस्ती हैं। दोनों वैक्सीन का निर्माण भारत में ही हुआ है और ये हमारे लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि सभी राज्यों से बातचीत करके वैक्सीनेशन की प्राथमिकता तय की गई है। 16  जनवरी से भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण शुरू होगा।

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी कोशिश सबसे पहले उन लोगों तक कोरोना वैक्सीन पहुंचाने की है जो देशवासियों की स्वास्थ्य रक्षा में जुड़े हैं। यानी हमारे हेल्थ वर्कर्स चाहे सरकारी हो या प्राइवेट। पहले चरण में इन 3 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया जाएगा, इस खर्च का वहन भारत सरकार करेगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस टीकाकरण अभियान में सबसे अहम उनकी पहचान और मॉनीटरिंग का है जिनको टीका लगाना है। इसके लिए एक CoWin नामक डिजिटल प्लेटफॉर्म भी बनाया गया है। CoWin पर रियल टाइम डाटा भेजना जरूरी है | दूसरी डोज के बाद फाइनल सर्टिफिकेट दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button