Top Newsगुजरातझारखण्डपश्चिम बंगालमध्य प्रदेशमहाराष्ट्रहिमाचल प्रदेश

देश में बर्ड फ्लू का अलर्ट, जानिए कौन सा राज्य कितना प्रभावित ?

देश से अभी कोरोना वायरस का खतरा टला नही है कि बर्ड फ्लू का तांडव शुरू हो गया है, पिछले दिनों कई राज्यों में कौओं की मौत ने प्रशासन की चिंता बढ़ा दी, जिसके चलते प्रशासन ने देश के कई हिस्सों में बर्ड फ्लू का अलर्ट जारी कर दिया है ।

राजस्थान में बर्ड फ्लू का खतरा चरम पर है, पर इसी बीच अब झारखंड़, हिमाचल और मध्य प्रदेश में भी बर्ड फ्लू का खतरा बढ़ गया है, जिसको लेकर सरकार ने यह अहम कदम उठाते हुए बर्ड फ्लू के खतरे के चलते अलर्ट जारी कर दिया है।

Carcasses of crows found in two places in Patna- The New Indian Express

राजस्थान के जयपुर के झालावाड़ में बर्ड फ्लू से अबतक100 पक्षियों की मौत हो चुकी है, तो वहीं कोटा में 47, बारां में 72, पाली में 19 और जयपुर के जलमहल में 10 कौए समेत प्रदेश में 245 कौओं की मौत हो चुकी है, वहीं कौओं की मौत पर पशुपालन विभाग की टीम जांच करने झालावाड़ पहुंची और मौके पर पहुंचकर जांच टीम ने इलाके को सैनेटाइज कराया साथ ही मृत कौओं को प्रोटोकॉल के अनुसार गड्ढा खोदकर जला दिया गया ।

Charlottetown crow lovers show support after complaints, injured birds | CTV News
वहीं हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्ध पोंग डैम सेंक्चुरी में 1700 प्रवासी पक्षियों की संदिग्ध हालत में मौत हो गई, पक्षियों की मौत के बाद अधिकारियों की चिंता बढ़ गई, वहीं अधिकारियों का कहना है कि विभिन्न इलाकों के सैंपल्स जांच के लिए भेजे गए हैं,
बता दे कि इंदौर में करीब 50 कौओं के बर्ड फ्लू से संक्रमित होने की आशंका है, वहीं इंदौर में तीन दिन पहले 50 कौओं के शव मिले थे जिसे लेकर सरकार ने अलर्ट जारी किया ।

ये भी पढ़ेंः कोरोना के बाद अब राजस्थान में बर्ड फ्लू ने दी दस्तक, जलमहल की पाल पर मरे हुए मिले 8 कौवे

Crows May Learn Lessons From Death - The New York Times
राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद झारखंड ने भी अलर्ट जारी कर दिया है, वहीं रांची के बिसरा एग्रीकल्चर कॉलेज के डॉक्टर सुशील प्रसाद ने बताया कि अभी तक झारखंड में बर्ड फ्लू का कोई मामला सामने नहीं आया है लेकिन पड़ोसी बंगाल से आने वाले पक्षी मुसीबत बढ़ा सकते हैं, साथ ही उनका कहना है कि अगर किसी भी मुर्गी पालक के यहां 10 से अधिक मुर्गी मरती है तो तुरंत वेटरनटी के डॉक्टर से संपर्क करें और उसकी जांच कराएं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button