Top Newsदिल्ली

दिल्ली पुलिस ने 7 यूनिट ब्लड देकर बचाई शख्स की जान, परिजनों ने कहा दिल की पुलिस

हार्ट के मरीज को खून देकर दिल्ली पुलिस ने पेश की मानवता की मिसाल

नई दिल्ली। साउथ दिल्ली के ग्रेटर कैलाश थाने में एटीओ के पद पर तैनात इंस्पेक्टर जयप्रकाश नागर, कॉन्स्टेबल संदीप और महिला कॉन्स्टेबल अंजू ने एक हार्ट अटैक के मरीज को खून देकर मानवता की मिसाल पेश की है।

बता दें कि ग्रेटर कैलाश थाने में एक सारिका जुत्सी नाम की महिला पुलिस स्टेशन में आई। इसी बीच उन्होंने इंस्पेक्टर जयप्रकाश नगर से मुलाकात की और उन्होंने बताया कि उनके पिता जिनका नाम अनिल कुमार जुत्सी है। उनकी तबीयत काफी ज्यादा खराब है और उन्हें एक सर्जरी के लिए ब्लड की आवश्यकता है।

इसी बात पर ग्रेटर कैलाश थाने के इंस्पेक्टर जयप्रकाश नागर ने कांस्टेबल संदीप और महिला कांस्टेबल मंजू से बात की और उन्हें खून देने के लिए राजी किया। क्योंकि उनका ब्लड ग्रुप बी पॉजिटिव था और मरीज को भी बी ग्रुप की जरूरत थी। इसी को देखते हुए तीनों पुलिसकर्मियों ने सुबह हॉस्पिटल में जाकर खून दिया लेकिन खून देने के बाद अब पता चला है कि बीमार अनिल कुमार जुत्सी की हालत पहले से अच्छी है और उनकी सफल सर्जरी की जा चुकी है।

वहीं, मरीज के परिजनों ने बताया कि दिल्ली पुलिस की तरफ से उनकी काफी मदद की गई और उन्हें ब्लड दिया गया इसके लिए उन्हें काफी जरूरत थी जिस तरह से वह ग्रेटर कैलाश पुलिस स्टेशन पहुंची तो उन्होंने अपनी समस्या बताई इस पर दिल्ली पुलिस के इंस्पेक्टर जयप्रकाश नागर ब्लड देने के लिए राजी हो गए और उन्होंने ब्लड देकर एक व्यक्ति की जान बचा कर बहुत ही नेक काम किया है। परिजनों ने दिल्ली पुलिस को दिल की पुलिस कहा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button