Breaking NewsTop Newsराज्य

कश्मीर भारत में है, तो उसके पीछे श्यामा प्रसाद मुखर्जी का संघर्ष और बलिदान: सीएम योगी…

डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती के अवसर पर आज यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में उनकी प्रतिमा...

DESK : डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती के अवसर पर आज यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में उनकी प्रतिमा एवं चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित की गई तथा इस अवसर पर देश एवं संगठन के लिए उनके योगदान एवं बलिदान पर चर्चा की गई।

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

इस मौके पर अपनी श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी भारतीय जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष, महान शिक्षाविद्, स्वतंत्रता सेनानी, वरीष्ठ समाजसेवी एवं महान देशभक्त थे। उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का हिस्सा है तो उसके पीछे डॉ मुखर्जी का संघर्ष और बलिदान है।

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

प्रकाश ने कहा कि उन्होंने आजाद भारत में नारा दिया था कि एक देश में दो प्रधान, दो विधान और दो निशान नहीं चलेंगे एवं इस नारे को साकार करने के लिये अपने प्राणों की आहुति दे दी। उन्होंने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपने को पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व ने पूरा करते हुए धारा 370 एवं 35 को हटाने का काम किया है।

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी प्रखर राष्ट्रवादी, एवं सिद्धांतवादी नेता थे। मरांडी ने कहा कि 33 वर्ष की अल्पायु में वे कलकत्ता विश्वविद्यालय के कुलपति बन गये थे।उन्होंने कहा कि 1950 में भारत की दशा दयनीय थी जिसे देखकर डॉ मुखर्जी बहुत दुखी थे। उन्होंने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने उस समय तत्कालीन भारत सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ मंत्रिमंडल से त्यागपत्र देकर संसद में विरोधी पक्ष की भुमिका निभाने लगे और कश्मीर का भारत में विलय के लिए प्रयत्न प्रारंभ कर दिया।

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

प्रदेश भाजपा संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह ने प्रदेश कार्यालय में डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा एवं चित्र पर पुष्पांजलि कर अपनी श्रद्धासुमन अर्पित की एवं कहा कि देश की एकता एवं अखंडता के लिए अपना श्रेष्ठ बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि डॉ मुखर्जी की प्रेरणा से ही आज भारतीय जनता पार्टी के करोड़ों कार्यकर्ता राष्ट्रवाद की अलख जगाते हुए अखंड भारत के सपने संजोने में निरंतर अपनी भुमिका निभा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button