Lifestyleराष्ट्रीय न्यूजलाइफस्टाइल

PM Modi Birthday:पीएम मोदी का अब तक का जीवन सफर, जानें साधारण से असाधारण बनने की पूरी कहानी

1985 में आरएसएस ने नरेंद्र मोदी को भाजपा को सौंपा दिया था...

Desk: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज जन्मदिन है. पीएम मोदी आज 72 साल के हो गए. देश में हर ओर पीएम के जन्मदिन को लेकर तमाम तैयारियां देखने को मिल रही है. पीएम मोदी के जन्मदिन के अवसर पर यूपी की राजधानी लखनऊ में इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में प्रदर्शनी का आयोजन किया गया है. जिसका शुभारंभ सीएम योगी नें किया. वहीं इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने रक्दान किया. वही प्रदेश के बलिया में एक कलाकार नें सैंड आर्ट से पीएम मोदी की तस्वीर बनाई है. बीजेपी के कार्यकर्ता इस अवसर पर काफी प्रसन्न हैं. देश के तमाम हिस्सों से पीएम मोदी को बधाई मिल रही है.

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

प्रतिवर्ष पीएम मोदी अपनें जन्मदिन पर कुछ विशेष करते हैं, आज पीएम अपने जन्मदिन पर मध्य प्रदेश में रहेंगे. जहां पर वो 4 महत्वपूर्ण कार्यक्रमों में शिरकत करेगें. पीएम आज नामीबिया से आए 8 चीतों को कूनो नेशनल पार्क में छोड़ेंगे. इसी के साथ पीएम मोदी पीएम एमपी के महिला स्वयं सहायता समूहों से वार्ता करेंगे. ITI के छात्रों के पहले दीक्षांत समारोह को संबोधन का भी कार्यक्रम भी प्रस्तावित है.

नरेंद्र मोदी के जीवन की कहानी- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पूरा नाम नरेंद्र दामोदरदास मोदी है. पीएम मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को गुजरात के वडनगर में हुआ. जानकारी के अनुसार जब मोदी सिर्फ आठ साल के थे, तभी वह राष्ट्रीय स्वयेसंवक संघ (RSS) के संपर्क में आए. वह महज 20 साल की उम्र में पूरी तरह से आरएसएस के प्रचारक बन गए. रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने में अपने पिता की भी मदद की. पीएम का चाय का किस्सा काफी चर्चित है और वो इस बात का जिक्र हर एक खास मौकों पर करते है. पीएम मोदी अपनी मां के बेहद करीब है. अक्सर जब वो गुतरात जाते है वो अपनें मां से जरुर मिलते है.

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

सन् 1985 में आरएसएस ने नरेंद्र मोदी को भाजपा को सौंपा दिया था. पार्टी ने उन्हें 1987 में अहमदाबाद नगरपालिका में बीजेपी के चुनावी अभियान को संचालित करने की जिम्मेदारी सौंपी जिसे नरेंद्र मोदी नें काफी मेहनत और लगन से निभाया था.अहमदाबाद नगरपालिका में बीजेपी के चुनावी अभियान में पीएम मोदी के नेतृत्व में इस चुनाव में बीजेपी को बड़ी जीत मिली. इसके बाद 1987 में नरेंद्र मोदी को गुजरात ईकाई का ऑर्गेनाइजिंग सचिव बनाया गया. 1990 में लालकृष्ण आडवाणी की रथ यात्रा और 1991 में मुरली मनोहर जोशी की एकता यात्रा में भी पीएम मोदी नें अहम भूमिका निभाई थी. साल 1995 में बीजेपी नें नरेंद्र मोदी को पार्टी का राष्ट्रीय सचिव नियुक्त किया जिसके बाद वो गुजरात से दिल्ली पहुंचे. इस दौरान नरेंद्र मोदी नें हरियाणा और हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों में बीजेपी के चुनाव अभियान का नेतृत्व भी किया. इसके एक साल बाद ही उनका प्रमोशन पार्टी नें किया. पार्टी ने उन्हें महासचिव (संगठन) बनाया.

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

इस पद का निर्वहन करते हुए नरेंद्र मोदी नें 6 वर्षों तक केंद्रीय टीम में काम किया, इसके बाद नरेंद्र मोदी को वापस गुजरात भेज दिया गया. वर्ष 2011 में 7 अक्टूबर को उन्होंने गुजरात के सीएम पद की शपथ ली. राजकोट में उन्होंने कांग्रेस के अश्विनी मेहता को 14 हजार से अधिक मतों से चुनाव हरा दिया. इस चुनाव में विजय पानें के बाद नरेंद्र मोदी 12 वर्षों तक सीएम पद पर बने रहे.

भोजपुरी ,हिन्दी ,गुजराती ,मराठी , राजस्थानी ,बंगाली ,उड़िया ,तमिल, तेलगु ,की भाषाओं की पूरी फिल्म देखने के लिए इस लिंक को क्लीक करे:-http://www.aaryaadigital.com/ आर्या डिजिटल OTT पर https://play.google.com/store/apps/de... लिंक को डाउनलोड करे गूगल प्ले स्टोर से

2013 में भाजपा नें नरेंद्र मोदी को अपने प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया. पीएम मोदी नें चुनाव प्रचार के दौरान जमकर मेहनत की और देश मे करीब 3 दशक बाद प्रचंड बहुमत वाली सरकार बनी. इसका सिलसिला जारी रहा और उन्होंने 2019 में भी भारतीय जनता पार्टी को शानदार जीत दिलाई.मोदी के बारे में एक दिलचस्प तथ्य यह है कि वह पहली बार विधायक बने तो गुजरात के मुख्यमंत्री बने.इसी तरह वह पहली बार सांसद बने तो भारत के प्रधानमंत्री बने. व्यकतिगत तौर पर पीएम नें आज तक किसी भी चुनाव में हार का मुंह नही देखा. पीएम नें विधायक से लेकर सांसद तक के सभी चुनाव को बड़े अंतर के साथ जीता.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button